Amit Shah: अंडमान निकोबार द्वीप को मिला त्रिस्थल का दर्जा, शुरु हुई कई योजनाएं

Amit Shah: अंडमान निकोबार द्वीप को मिला त्रिस्थल का दर्जा, शुरु हुई कई योजनाएं

केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री, Amit Shah ने आज नेशनल मेमोरियल सेल्युलर जेल का दौरा किया और पोर्ट ब्लेयर में शहीद स्तंभ पर माल्यार्पण भी किया. साथ ही यहाँ पहुंचकर उन्होंने वीर सावरकर के कक्ष का भी दौरा किया और श्रद्धांजलि अर्पित की. आपको बता दें, कि गृह मंत्री ने सेलुलर जेल में ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ के तहत सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लिया.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गृह मंत्री, Amit Shah ने कहा है, कि “इस पवित्र स्थान पर आना मेरे लिए गर्व की बात है”. साथ ही, स्वतंत्रता सेनानियों में शुमार वीर सावरकर और सचिन सान्याल को याद करते हुए उन्होंने यह भी कहा है, कि उनके बलिदान ने कई युवाओं को देश की सेवा करने के लिए प्रेरित किया था. ऐसे तो सेल्युलर जेल में स्वतंत्रता सेनानियों को बहुत कष्ट झेलना पड़ा, मगर उनके हौसले बुलंद थे. यह सर्वोच्च बलिदानों की भूमि है. इस मौके पर सरकार ने सेलुलर जेल को, भारतीय उपमहाद्वीप का सबसे पवित्र स्थान ‘त्रिथस्थल’ का दर्जा भी दिया. आपको बता दें, कि गृह मंत्री, Amit Shah ने आज सेल्युलर जेल परिसर के सामने के गेट पर पट्टिका का अनावरण भी किया है.

अंडमान निकोबार द्वीप समूह के तीन दिवसीय दौरे पर आज पोर्ट ब्लेयर पहुंचे गृह मंत्री ने कहा, कि अंडमान निकोबार एक ऐसा स्थान है, जहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने वर्ष 1943 में पहली बार तिरंगा फहराया था. इसके बाद ही इसे ब्रिटिश शासन से मुक्त घोषित किया गया था. कार्यक्रम में मौजूद, Amit Shah ने लोगों से सेलुलर जेल जाने और स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि देने की अपील की है. आज़ादी का अमृत महोत्सव के उद्देश्य पर ज़ोर देते हुए, गृह मंत्री ने देश के युवाओं से अपील की है, कि भारत को एक महान राष्ट्र बनाने के लिए प्रतिबद्धता लाने का समय आ गया है.

Amit Shah ने कहा है, कि अंडर सी केबल प्रोजेक्ट ने द्वीपों में कनेक्टिविटी की समस्या को हल कर दिया है. वर्ष 2018 में शुरू हुई इस परियोजना का उद्घाटन पिछले साल अगस्त में प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी ने किया था. आज अंडमान पहुंचे उपराज्यपाल, एडमिरल डीके जोशी ने भी अपने संबोधन में उल्लेख किया है, कि प्रधानमंत्री कार्यालय और गृह मंत्रालय के प्रयासों के कारण, अंडर सी केबल परियोजना को काफ़ी कम समय में लागू किया गया है. मिली जानकारी के मुताबिक, Amit Shah कल शहीद द्वीप ईको-पर्यटन परियोजना और स्वराज द्वीप जल हवाई अड्डा सहित विभिन्न विकास परियोजनाओं का हवाई सर्वेक्षण करेंगे. इसके बाद, वह नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वीप का दौरा भी करेंगे. इसके अलावा, गृह मंत्री कल एक सार्वजनिक समारोह में भाग लेंगे जिसमें वह विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और आधारशिला रखेंगे.


यह भी पढ़ें: Amit Shah: आज गोवा में रखी जाएगी फोरेंसिक यूनिवर्सिटी की नींव, जनता को करेंगे संबोधित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *