Yuvraj Singh Arrest: जातिवादी टिप्पणी कर फंसे पूर्व क्रिकेटर को मिली ज़मानत :

Yuvraj Singh Arrest: जातिवादी टिप्पणी कर फंसे पूर्व क्रिकेटर को मिली ज़मानत

पूर्व क्रिकेटर Yuvraj Singh को हाल ही में जातिवादी टिप्पणी करने के मामले में गिरफ्तार किया गया था. उनकी गिरफ्तारी, उच्च न्यायालय के एक आदेश के बाद हुई थी. अब हरियाणा पुलिस ने बताया, कि युवराज को अब ज़मानत पर रिहा कर दिया गया है. आपको बता दें, यह पूरा मामला पिछले साल का है, जब Yuvraj Singh पर इंस्टाग्राम चैट के दौरान, एक अन्य क्रिकेटर पर जातिवादी टिप्पणी करने का आरोप लगा था. 

हरियाणा राज्य के हांसी ज़िला के डीएसपी Vinod Shankar ने बताया, “शनिवार को Yuvraj Singh हांसी आए और हमने उनकी औपचारिक गिरफ्तारी की. लेकिन उन्हें कुछ घंटों के बाद ही ज़मानत पर रिहा भी कर दिया गया.” सोशल एक्टिविस्ट, रजत कलसन ने हांसी पुलिस थाने में Yuvraj Singh के खिलाफ़ मामला दर्ज कराया था. आपको बता दें, कि युवराज सिंह पर यह आरोप लगाया गया था, कि उन्होंने अनुसूचित जाति के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की है. जिसके बाद, रजत कलसन ने युवराज पर हरियाणा के हांसी थाना में SC-ST एक्ट और IPC की विभिन्न धाराओं के तहत कई मुकदमे दर्ज कराये थे. 

रजत कलसन ने यह शिकायत पिछले साल दर्ज कारवाई थी, जिसमें Yuvraj Singh पर यह आरोप लगाया गया था, कि उनकी टिप्पणी से दलित समुदाय की भावनाओं को काफी ठेस पहुंची है. आपको बता दें, कि युवराज का यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हुआ था.

अपने द्वारा की गईं जातिवादी टिप्पणियों पर Yuvraj Singh ने पहले एक ट्वीट किया था. उन्होंने उस ट्वीट में लिखा था, “मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं, कि मैंने कभी भी जाति, रंग और लिंग को लेकर किसी भी प्रकार की असमानता में भरोसा नहीं किया है. मैंने अपना जीवन, हमेशा लोगों की भलाई में ही दिया है और आज भी यह जारी है. मैं बिना किसी अपवाद के हर व्यक्तिगत ज़िंदगी के गौरव और सम्मान में विश्वास रखता हूं. मैं समझता हूं, कि जब मैं अपने दोस्तों के साथ बातचीत कर रहा था, तो मुझे गलत समझा गया, जो अनुचित था. हालांकि, एक ज़िम्मेदार भारतीय के रूप में मैं यह कहना चाहता हूं, कि अगर मैंने अनजाने में किसी की भावनाओं को चोट पहुंचाई है, तो मैं उसके लिए माफी मांगता हूं.”

Yuvraj Singh पर आरोप है, कि उन्होंने पिछले साल Rohit Sharma के साथ एक लाइव चैट के दौरान, Yuzvendra Chahal पर एक जातिवादी टिप्पणी की थी. युवराज को गिरफ्तार करने के बाद, हिसार जियो मेस में पुलिस द्वारा उनसे 3 घंटों तक की लंबी पूछताछ की गई. इसके बाद उच्च न्यायालय के आदेश का पालन करते हुए, पूर्व क्रिकेटर को औपचारिक ज़मानत पर छोड़ दिया गया. 

यह भी पढ़ें: MS Dhoni: IPL 2021 की ट्रॉफी के साथ कैप्टन कूल को मिली ये खुशखबरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *