Manohar Lal Khattar News: 11वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों को हरियाणा के मुख्यमंत्री देंगे ये खास तोहफ़ा : Hindustan Reads

Manohar Lal Khattar News: 11वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों को हरियाणा के मुख्यमंत्री देंगे ये खास तोहफ़ा

हरियाणा के मुख्यमंत्री Manohar Lal Khattar ने मंगलवार को कहा, कि राज्य भर में कक्षा 11वीं  और 12वीं  के छात्रों को जल्द ही मुफ्त टैबलेट दिए जाएंगे. इसके साथ ही, हरियाणा सरकार ने पांच लाख टैबलेट खरीदने का फैसला किया है. इसका लाभ आगामी शैक्षणिक सत्र में 11वीं और 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों को दिया जाएगा. Manohar Lal Khattar कहा है, कि “इन टैबलेट को खरीदने पर कुल 560 करोड़ रुपये खर्च होंगे. सरकार भविष्य में अन्य कक्षाओं के छात्रों को भी टैबलेट देने की योजना बना रही है.” 

हरियाणा सरकार के द्वारा करीब 5 लाख  टैबलेट का आर्डर सैमसंग कंपनी को दिया गया है. वहीं सैमसंग कंपनी ने इन टैबलेट के आर्डर को पूरा करने के लिए 4 महीने का समय लगेगा. ऐसे में आगामी शैक्षणिक सत्र में ही बच्चों को टैबलेट की सुविधा मिल पाएगी. आपको बता दें, कि इससे पहले 8वीं से 12वीं तक के बच्चों को टैबलेट सरकार द्वारा प्रदान किए जाने थे. लेकिन अब सरकार का कहना है, कि अगर 11वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों को टैबलेट देने का फैसला सफल रहा तो, सरकार 8वीं से 10वीं कक्षा के छात्रों को टैबलेट देने के पक्ष में निर्णय लेगी. 

इसके अलावा, Manohar Lal Khattar  सरकार जल्द ही किसानों को 15,000 ट्यूबवेल कनेक्शन जारी करेगी.  इस संबंध में मंगलवार को हुई हाई पावर परचेज कमेटी की बैठक के दौरान 350 करोड़ रुपये के बिजली उपकरण खरीदने की प्रक्रिया पूरी की गई. इस बैठक में हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल, परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, बिजली मंत्री रंजीत सिंह चौटाला और कृषि मंत्री जे पी दलाल सहित अन्य मंत्री मौजूद थे. 

Manohar Lal Khattar ने कहा है, कि भ्रष्टाचार पर लगाम लगाना उनकी सरकार का मुख्य लक्ष्य है. उन्होंने डेंटल सर्जनों की भर्ती घोटाले पर सवालों के जवाब देते हुए कहा, कि अगर कोई अधिकारी या कर्मचारी भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा, कि अगर किसी को नौकरी या विभागों में भ्रष्टाचार से संबंधित कोई जानकारी मिलती है, तो वह तुरंत State Vigilance Bureau को सूचित करें.

यह भी पढ़ें: Farm Laws Repeal: आख़िर क्यों लिया सरकार ने कानून वापस लेने का बड़ा फ़ैसला, यहां जानें वजह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *