Aryan Khan Drug Case: NCB ने कहा Arbaaz Merchant के साथ ड्रग्स की खरीद में हैं शामिल

Narcotics Control Bureau(NCB) ने बुधवार को अदालत में Aryan Khan मामले में नया बयान दिया है. एजेंसी ने कहा, कि एजेंसी की शुरुआती जांच से पता चला है, कि Shahrukh Khan के बेटे, इस मामले के एक अन्य आरोपी Arbaaz Merchant से प्रतिबंधित पदार्थ खरीदते थे. एजेंसी ने Aryan Khan की जमानत याचिका का जवाब देते हुए कहा, कि “जांच के दौरान एकत्र की गई सामग्री से पता चला है, कि Aryan Khan अवैध खरीद और प्रतिबंधित सामग्री के वितरण से संबंध रखते हैं. 

Narcotics Control Bureau ने कहा, कि इस केस में आरोपी Aryan Khan की भूमिका को दूसरे आरोपी Arbaaz Merchant से अलग करके नहीं समझा जा सकता. NCB ने कहा, कि भले ही उनके पास से प्रतिबंधित ड्रग्स न मिली हो, लेकिन वे पेडलर के संपर्क में थे. साथ ही, वह खरीदारी के लिए हुई ट्रांजेक्शन में भी शामिल थे. NCB ने स्पष्ट रूप से अदालत से कहा, कि वह ड्रग पेडलर के संपर्क में थे. यह एक बड़ी साजिश है, जिसकी जांच होना जरूरी है. NCB ने अदालत को बयान देते हुए कहा, कि Aryan Khan भी Arbaaz Merchant के पास से मिली ड्रग्स की खरीदारी में शामिल थे. इसके आलावा आरोपी के विदेशों में ड्रग्स की लेनदेन में भी शामिल होने के सबूत मिले हैं. आपको बता दें, कि फिलहाल विदेशों में ड्रग्स की लेनदेन को लेकर NCB की जांच जारी है. 

आपको बता दें, कि NCB को जांच के दौरान कुछ ऐसे सबूत मिले हैं, जिससे यह बात सामने आती है, कि Aryan Khan ड्रग्स हासिल करने के लिए अंतरराष्ट्रीय ड्रग रैकेट नेटवर्क के संपर्क में थे. फिलहाल, इस सिलसिले में NCB जांच कर रही है. जांच के दौरान यह खुलासा हुआ, कि Aryan Khan को आरोपी नंबर 17 Achit Kumar ड्रग सप्लाई करता था. बता दें, कि रेव पार्टी में NCB को Achit Kumar के पास से 2.6 ग्राम गांजा बरामद हुआ था. ड्रग्स केस का आरोपी नंबर 2, Arbaaz Merchant, जो शिवराज हरिजन नाम के पैडलर से ड्रग्स हासिल करता था. उस शिवराज हरिजन के पास से NCB को 62 ग्राम चरस बरामद किया गया है.

इससे पहले NCB ने Aryan Khan की जमानत याचिका का विरोध करते हुए कहा था, कि Aryan Khan एक प्रभावशाली परिवार से ताल्लुक रखते हैं और वह सबूतों से छेड़छाड़ कर सकते हैं. अपने जवाब में विशेष एनडीपीएस अदालत, ने इस बात को दोहराया और कहा, उसकी प्रभावशाली पृष्ठभूमि को देखते हुए, आरोपी सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकता है. साथ ही, वह अन्य गवाहों को प्रभावित कर सकता है, जिन्हें वह व्यक्तिगत रूप से जानता है. NCB ने कहा, “साथ ही आरोपी के जांच से भागने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता है.”

Aryan Khan को 3 अक्टूबर 2021 को Arbaaz Merchant सहित सात अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया गया था. जब NCB ने एक गुप्त सूचना पर गोवा जाने वाले एक क्रूज पर छापा मारा था. NCB को Aryan Khan के पार्टी में ड्रग्स लेने की एक गुप्त सूचना मिली थी. 

यह भी पढ़ें: Aryan Khan Drugs Case: वकील Amit Desai करेंगे Shahrukh Khan के बेटे की पैरवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *