Sputnik-V; काला बाजारी करने वालो को मार,कोई भी तीसरा पक्ष नहीं कर सकता सप्लाई

Sputnik-V; काला बाजारी करने वालो को मार,कोई भी तीसरा पक्ष नहीं कर सकता सप्लाई

हाल ही में डॉ रेड्डीज लैबोरेट्रीज़(Dr. Reddy’s) की तरफ Sputnik-V वैक्सीन की 250 मिलियन खुराक भारत को मिलने वाली है। डॉक्टर रेड्डीज लैबोरेट्रीज का कहना है कि कोई तीसरा पक्ष भारत में Sputnik-V की सप्लाई नहीं कर सकता है।

विदेशी वैक्सीन की कालाबाजारी न हो सके इसलिए डॉ रेड्डीज लैबोरेट्रीज ने एक बड़ा बयान दिया है। अपने बयान में डॉ रेड्डीज लैबोरेट्रीज ने कहा है कि भारत में Sputnik-V की सप्लाई के लिए कोई भी तीसरा पक्ष मान्य नहीं होगा। साथ ही अपने बयान में उन्होंने भारत को नकली वैक्सीन और कालाबाजारी करने वाले लोगों से सावधान रहने को कहा है। उन्होंने यह भी बताया कि बहुत जल्द भारत को Sputnik-V की 250 मिलियन वैक्सीन की खुराक मिलने वाली है।

पिछले कुछ दिनों में ही Sputnik-V और डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज के गठबंधन को लेकर बहुत से अनधिकृत बयान सामने आए हैं जिस पर डॉ रेड्डीज लैबोरेट्रीज द्वारा उचित कार्यवाही करने की योजना भी है।

आरडीआईएफ(RDIF) ने पिछले साल Sputnik-V और डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज की साझेदारी की थी और साथ ही कहा कि उनके पास वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज लॉजिस्टिक्स के साथ-साथ ट्रैक-एंड-ट्रेस की व्यवस्था भी है। बयान में यह भी कहा गया है कि जून के मध्य में वैक्सीन के व्यावसायिक लॉन्च से पहले, डॉ रेड्डीज सरकार और निजी क्षेत्र के साथ साझेदारी तलाशने के लिए सीधी बातचीत जारी रखे हुए है। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें की भारत में विश्व का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है, जिसके तहत लगभग 20 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। कुछ राज्यों में वैक्सीन की कमी होने के कारण वैक्सीनेशन अभियान अपनी शुरूआती रफ़्तार से धीमा पड़ चुका है। उम्मीद है कि डॉक्टर रेड्डीज़ लेबोरेटरीज द्वारा Sputnik-V की 250 मिलियन खुराक उपलब्ध करवाने के बाद वैक्सीनेशन अभियान पुनः तेज़ी पकड़ लेगा।

यह भी पढें:-Randeep Hooda: मायावती पर ‘जातिवाद और सेक्सिस्ट’ टिप्पणी वाले वीडियो पर भड़के लोग, #ArrestRandeephooda हो रहा है ट्रेंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *